इजराइल–हमास वॉर पर अमेरिका के राष्ट्रपति Joe–Biden ने दिया बड़ा बयान। अगले सप्ताह तक युद्धविराम होने की संभावना जताई।

इजरायल हमास वॉर के चर्चे दुनिया भर में हैं और यह अभी तक थमा नहीं है। 7 अक्टूबर 2023 में प्रारंभ होने वाला यह युद्ध अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब जबकि युद्ध को 5 महीने होने जा रहे हैं तो ऐसे में एक खबर सामने आई है जिससे इस युद्ध के थमने के आसार लग रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो–बाइडेन ने एक बड़ा बयान दिया है, जिसके बाद यह संभावना नज़र आ रही है कि इजरायल–हमास युद्ध में विराम लगने वाला है। जैसा कि आप जानते ही होंगे कि इजराइल की युद्ध में मदद करने वाला देश जो सबसे आगे है वो अमेरिका ही है। अमेरिका ने इजराइल–हमास युद्ध में इजराइल की काफी मदद की है। अमेरिका ने अपने होनहार जवानों को भी इजराइल की मदद के लिए भेजा था। और अब ऐसे में अमेरिका के राष्ट्रपति ने इजराइल हमास युद्ध के रुकने की संभावना जताई हो तो यकीन करना तो बनता है क्योंकि इजराइल की बाग डोर अमेरिका के ही हाथ में है।

इजराइल–हमास युद्ध को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति Joe–Biden ने अपना एक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि उन्हें यह उम्मीद है कि अगले सोमवार यानि 4 मार्च तक इजराइल–हमास युद्ध के बीच युद्ध विराम हो जायेगा। लेकिन, इसके साथ ही जो–बाइडेन ने यह भी कहा है कि अब तक युद्धविराम को लेकर कुछ क्लियर नहीं हुआ है, लेकिन जल्द ही सब साफ होने वाला है और आपको फैसला सुना दिया जाएगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हुई जाने वाली बात में जो बाइडेन से एक सवाल पूछा गया था जिस पर उन्होंने यह जवाब दिया था की “ मुझे यह उम्मीद है कि अगले सप्ताह के शुरुआत में या अंत तक युद्ध विराम हो जायेगा।”

यह भी पढ़ें  इकोनॉमी के लिए खुशखबरी!! जीडीपी (GDP) ने है अनुमान को छोड़ा पीछे। 8.4% रही जीडीपी ग्रोथ।

तो दोस्तों हम आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो–बाइडेन ने यह कहा है कि “ मेरे सुरक्षा सलाहकार ने यह बताया है कि अब तक युद्धविराम हुआ नहीं है, लेकिन हम इसके बहुत करीब पहुंच गए हैं। मुझे यह उम्मीद है कि अगले सोमवार तक इजराइल–हमास के बीच युद्धविराम हो जायेगा।” रिपीर्ट के अनुसार, हमास ने बंधकों की रिहाई के लिए जो शर्तें रखी थीं, उनमें से कुछ शर्तों को दरकिनार कर दिया है और हमले करना भी बंद कर दिया है। यह तो आप जानते ही होंगे कि यह युद्ध लगातार 4 महीनों से हो रहा है जिसको अब 5 महीने होने जा रहे हैं। हालांकि, बीच में थोड़ा युद्ध रुक गया था सीजफायर होने की वजह से लेकिन समाधान अभी तक कुछ नहीं निकला। हालांकि, इस पर चर्चा तो बहुत हुई है लेकिन दोनों ही देश अपनी तहस में है और किसी की भी शर्ते मानने को तैयार नहीं है।

हाल ही में युद्धविराम को लेकर पैरिस में चर्चा हुई है। चर्चा में शामिल हुए सूत्रों का कहना है कि जल्द ही दोनों पक्षों के बीच समझौता होगा। और इसी चर्चा में युद्धविराम और इजरायली बंधकों की रिहाई का ज़िक्र हुआ है। अमेरिका, मिस्र और इजराइल के खुफिया प्रमुखों और कतर के प्रधानमंत्री के बीच पेरिस में हुई बैठक के बाद बाइडेन प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह कहा है कि “ हमास द्वारा इजरायली बलों की पूर्ण वापसी और युद्ध के अंत पर ज़ोर देने के संदर्भ में प्रमुख बाधाओं का समाधान किया गया है।” और इसके साथ ही यह कहा है कि हमास ने जो फलस्तीनी कैदियों की रिहाई की मांग की थी उसमें भी थोड़ी गिरावट आई है। रिपोर्ट के अनुसार, एक अधिकारी ने यह भी कहा है कि हमास ने सौदे के पहले चरण पर समझौते से पहले ही अपनी स्तिथि नरम कर ली है। वैसे तो यह संभावना है कि आने वाले वक्त में जब हमास की कैद में फसे IDF के जवानों की रिहाई को लेकर और युद्धविराम पर चर्चा होगा तो इसमें काफी फसात देखने को मिल सकती है।

यह भी पढ़ें  WTO: विश्व व्यापार संगठन में भारत से भिड़ा थाईलैंड। बढ़ा विवाद, भारत ने किया बॉयकॉट।

तो हम आपको बता दें कि समाचार एजेंसी और एएनआई के अनुसार, उन्होंने यह कहा है कि, “ कतर और मिस्र को हमास के साथ अप्रत्यक्ष चर्चा करनी होगी। क्योंकि हमास को बंधकों को रिहा करने के लिए सहमत होना ही पड़ेगा। इस पर काम चल रहा है। और हमें यह उम्मीद है कि आने वाले दिनों में हम इस प्वाइंट तक पहुंच सकते हैं, जहां असल में इस मुद्दे पर एक हल और अंतिम समझौता होगा।” अमेरिका की तरफ से इस खबर के मिलने के बाद अब यह आसार हकीकत में लग रहे हैं कि वो घड़ी जल्द ही आने वाली है, जिसमें इजराइल–हमास युद्ध पर विराम लगेगा। और अब शायद और मासूम लोगों को अपनी जान नहीं गवाना पड़ेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top