आयोडीन हमारे शरीर के लिए है बहुत ही जरूरी इसकी कमी से होने से करना पड़ सकता है शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का सामना

हमारे शरीर में पर्याप्त मात्रा में पोषण तत्व पाए जाते हैं जो हमें पोषण प्राप्त करते हैं आयोडीन भी एक ऐसा पोषण तत्व है जिसकी कमी होने से हमारे शरीर से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं आयोडीन की कमी से कुछ ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं जिससे पता चल जाता है कि हमें आयोडीन की कमी है।

आयोडीन एक मिनरल होता है। जो हमारे शरीर को पोषण देने में मदद करता है तथा थाइरॉएड हार्मोस बनाने में भी मदद करता है अगर हमारे शरीर में आयोडीन की कमी होती है तो हमें अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिससे थाइरॉएड ग्रंथि सही तरीके से काम नहीं करती है। जिससे थाइरॉएड से संबंधित डिजीज हो सकती हैं इसलिए हमें सही मात्रा में आयोडीन लेना चाहिए जिससे हमारा शरीर अनेक बीमारियों से लड़ सके।

आयोडीन को भरपूर मात्रा में लेना चाहिए जो कि हमारे शरीर की एक जरूरत है अगर आयोडीन की कमी हो जाती है तो हमें शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आईए जानते हैं आयोडीन की कमी से क्या-क्या समस्याएं हो सकती हैं।

वजन बढ़ जाता है

आयोडीन की कमी से जब थायराइड ग्रंथि सही तरीके से काम नहीं कर पाती है तो मेटाबॉलिज्म पर इफेक्ट पड़ता है इफेक्ट पढ़ने की वजह से वजन बढ़ने की संभावना होती है जब शरीर में मेटाबॉलिज्म की क्रिया नहीं होगी तो कैलोरी बर्न नहीं हो पाती और कैलोरी बर्न होने के वजह से वह हमारी बॉडी में इकट्ठा होती जाती जो की वजन को बढ़ाने में मदद करती है। जिससे शरीर में फैट अपने आप चढ़ने लगता है यही कारण है कि आयोडीन की कमी से वजन बढ़ता है।

यह भी पढ़ें  डायबिटीज के लक्षण के बारे में जाहिर और इसके इससे कैसे बचाव किया जा सकता है और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

बालों का झड़ना

थायराइड ग्रंथि द्वारा बनने वाला थायराइड हार्मोन बालों के फॉलिकल्स को मजबूत बनाने के लिए होता है इसी कारण से आयोडीन की कमी से थायराइड हार्मोन ठीक तरह से काम नहीं कर पता है जिसके कारण बाल झड़ना स्टार्ट हो जाते हैं। और
आयोडीन की कमी होने के लक्षण दिखाई देने पर इसकी कमी को पूरा ना किया जाए और इसे ज्यादा टाइम हो जाए तो सिर्फ बाल झड़ने ही नहीं वह देखने को मिल सकता है।

कॉग्नीटिव फंक्शन वीक होना जिससे याददाश्त हो सकती है कमजोर

जब आयोडीन की कमी होती है तो थाइरॉएड ग्रंथि में हारमोंस नहीं बन पाता है जिससे दिमाग से संबंधित बीमारियां हो जाती हैं आयोडीन की कमी होने से कॉग्नीटिव फंक्शन वीक पड़ जाता है जिससे दिमाग से जुड़ी ब्रेन फोग और याददाश्त कमजोर होना आदि परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

गोइटर

आयोडीन की कमी से हमारे गर्दन में सूजन आ जाती है और इसका थाइरॉएड ग्रंथि पर भी असर पड़ता है। गर्दन सूज जाती है और लंप बन जाता है जिसके कारण से गले में कसाब सा होता है और बोलने में भी परेशानी होती है।

पीरियड्स का ज्यादा होना

अगर शरीर में आयोडीन की कमी हो जाती है तो अनियमित महामारी भी देखने को मिलती है महिलाओं में पीरियड्स का अनियमित तरीके से होना और पीरियड से जुड़ी कई समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है। आयोडीन की शरीर में सही मात्रा न होने के कारण अनियमित महामारी की समस्या देखने को मिलती है।

इसलिए अपने शरीर में आयोडीन की मात्रा बनाए रखना चाहिए ताकि हमारे शरीर से जुड़ी सारी समस्याओं को हम दूर कर सकें और ऐसी चीजों को अपने खाने में लेना चाहिए जिसमें आयोडीन पाया जाता हो जैसे कि दूध, दही, चावल, नमक, सब्जियों आदी में आयोडीन पाया जाता है तो आयोडीन की कमी पूरी करने के लिए इन सबका सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें  लहसुन का दाम ने तोड़े रिकॉर्ड दाम में बढ़ोतरी होने के कारण चटनी जायका हुआ खराब:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top