पोषक तत्व से भरपूर होते हैं यह चार काले फूड्स, हमारे शरीर को कई बीमारियों से रखते हैं दूर, अपने खाने में करें इनका यूज:

बात हाई ब्लड प्रेशर की हो या दिल से संबंधित किसी भी बीमारी की तो सिर्फ रंग बिरंगी फल और सब्जियों के अलावा काले दिखने वाले कुछ ऐसे फूड्स भी हैं जो हमें कई तरह की बीमारियों से सेफ रखते हैं। आइये आपको ऐसे ही कुछ काले फूड्स के बारे में बता रहे हैं जो हमारे शरीर में उत्पन्न होने वाली बीमारियों को कंट्रोल करने में मदद करते हैं।

हम अपने भोजन में तरह-तरह के फल सब्जियों का प्रयोग करते हैं जो हमें न्यूट्रिशन प्राप्त करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कुछ ऐसे काले दिखने वाले फूड्स भी हमारे शरीर को काफी पोषक तत्व प्राप्त करते हैं जिनकी हमारे शरीर को जरूरत होती है। आज हम आपको चार ऐसे फूड्स के बारे में बताते हैं जो हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं और बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करते हैं या बीमारी को कंट्रोल करते हैं।

काले अंजीर – इम्यूनिटी बूस्टर

काले अंजीर का सेवन करने से हमारे शरीर को कई फायदे होते हैं हमारा डाइजेशन सिस्टम बेहतर बना रहता है तथा साथ में इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करता है तथा महिलाओं में पीरियड्स के समय होने वाली समस्याओं को दूर करता है शुगर वाले पेशेंट अगर इसका सेवन करें तो इनका शुगर लेवल ठीक रहता है।

काली उड़द की दाल— प्रोटीन का है खजाना

जैसा कि आप तरह-तरह की दालों का खाने में उपयोग करते हैं और दालों में प्रोटीन काफी मात्रा में पाया जाता है। लेकिन इन सब दलों की तुलना में काली उड़द की दाल में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है इसके अलावा काली उड़द का दाल में आयरन फाइबर जैसे पोषक तत्व भी शामिल होते हैं। उड़द की दाल में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है और यह हमारे शरीर के लिए बहुत ही उपयोगी होती है।

यह भी पढ़ें  आजकल बच्चे फोन किया इतने आदी हो गए हैं अगर फोन ना हो तो वह खाना तक नहीं खाते हैं रखना चाहते हैं बच्चे को मोबाइल से दूर तो अपनाये ये दो तरीके:

काले चावल – डाइजेशन सिस्टम रखे दुरस्त बड़ाये आंखों की रोशनी

हमारे घरों में व्हाइट, गोल्डन, ब्राउन कलर के चावल खाए जाते हैं लेकिन हम कभी ब्लैक राइस का उपयोग नहीं करते हैं जबकि ब्लैक राइस हमारे लिए काफी ही अच्छा होता है इसका प्रयोग करने से लीवर तथा डायबिटीज संबंधित बीमारियों को कंट्रोल किया जा सकता है इसका प्रयोग से पाचन तंत्र ठीक रहता है तथा आंखों से संबंधित बीमारी नहीं होती है बल्कि आंखों की रोशनी को तेज करने में भी मदद करता है।

काले चने– सोर्स ऑफ़ फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट

काले चने भी हमारे शरीर के लिए महत्वपूर्ण होते हैं छोले और राजमा का यूज तो होता ही रहता है। ज्यादातर लोग अपने घरों में छोले की सब्जी या राजमा की सब्जी वगैरह तो बनाते रहते हैं लेकिन काले चने का प्रयोग ज्यादा नहीं करते हैं काले चने में फाइबर तथा एंटीऑक्सीसाइड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हमारे पाचन को दुरस्त रखता है और त्वचा में चमक भी लाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top