एक ऐसा आयुर्वेदिक प्रोडक्ट जो आपको गुटखा, तंबाकू, मावा आदि का सेवन करने से मुंह की समस्या को करे दूर और आयुर्वेदिक होने के कारण नहीं है इसके कोई भी साइड इफेक्ट;

डॉक्टर राजेश के द्वारा प्रयोग की गई यह किट

डॉ राजेश चतुर्वेदी एक ऐसे इंटेलिजेंट डॉक्टर हैं जिन्होंने एक ऐसे मेथड का प्रयोग किया जो मुंह बंद और सबम्यूकस फाइब्रोसिस बीमारी में मदद करती है वह हर्बल माउथ केयर किट है लेकिन ह्यूमन की इम्युनिटी पावर पर आधारित होती है
आईये अब अनुभव देखते हैं

लगातार गुटके, तंबाकू, पान आदि का सेवन करने से मुंह बंद हो जाता है क्या फिर बाद में मुंह खोलने मुश्किल होता है यह कथन बिल्कुल गलत है यद्यपि आपको लग रहा है कि लगातार तंबाकू, गुटका आदि का सेवन करने से मुंह बंद हो जाता है फिर मुंह नहीं खुलता है तो यह उपाय अपनाएं
डॉ राजेंद्र चतुर्वेदी ने कहा है कि तंबाकू गुटका मावा आदि को खाने के बाद मुंह खोलने में परेशानी होती है तो एक महत्वपूर्ण उपाय हर्बल माउथ केयर किट का प्रयोग करें।

आखिर क्या है मुंह बंद होने का राज

यदि किसी कारण से मुंह बंद हो रहा है तो उसका कारण समझना चाहिए यह कई प्रकार के हो सकते जैसे मुंह की अंदर और बाहर स्किन का मोटा होना यह ऐसा क्यों होता है
इसलिए यह होता है कि लगातार तंबाकू, गुटखा, पान मसाले का सेवन करने से मुंह के अंदरूनी हिस्से की सेल्स डैमेज हो जाती हैं जिसके कारण माउथ बंद होने लगता है और अगर देखा जाए तो हमें तीखा और हार्ड खाने में तीखा लगता है।

राज की बात यह भी है कि पान, मसाला, गुटखा आदि का सेवन करने से जो सेल्स डैमेज हो जाती है जिससे रक्त प्रवाह कम होने लगता है माउथ केयर किट का प्रयोग करने से डैमेज हुई सेल्स ठीक हो जाती हैं, दवाइयां का प्रयोग करें पर्याप्त मात्रा में व्यायाम करें आपको इससे काफी सुधार देखने को मिलेगाऔर रक्त का संचार बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें  कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी में कीड़ा जड़ी है काफी गुणकारी

इस असरकारी किट का इस्तेमाल करने से आपको काफी फर्क देखने को मिलेगा आपका बंद मुंह काफी हद तक खुलने लगेगा इस दवाई का उपयोग करने के बाद आपको एक्सरसाइज करना जरूरी है और इसे समय से लें यह एक 💯 आयुर्वेदिक दवा है इससे शरीर में कोई भी साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिलता है। गुटके, तंबाकू वगैरा से बंद हुआ मुंह में आपको काफी फर्क देखने को मिलेगा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top