Elon Musk ने किया Open AI पर केस, साथ ही CEO पर भी लगाए आरोप।

तो दोस्तों एलन मस्क (Elon Musk) को तो आप ज़रूर जानते ही होंगे। एलन मस्क Tesla कंपनी और स्पेसएक्स के CEO हैं। एलन मस्क ने काफी मेहनत करके आज यह मुकाम पाया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर भी अपनी इस जर्नी को एक दफा शेयर किया था, कि कैसे वह जमीन से आसमान तक पहुंचे हैं। एलन मस्क ने अपनी एक पोस्ट पर यह लिखा था कि उन्होंने इस मुकाम को पाने के लिए बहुत मेहनत की है। और आज के बारे में तो आप जानते ही हैं कि एलन मस्क कितने अमीर बिजनेसमैन में से एक जाने जाते हैं। जब भी सबसे अमीर बिजनेसमैन की बात होती है तो एलन मस्क और एमेजॉन के सीईओ का नाम ही सबसे पहले आता है। लेकिन आज हम सिर्फ एलन मस्क की बात कर रहे हैं। हाल ही में अभी एक खबर सामने आई है, जिसमें एलन मस्क ने Open AI कंपनी पर केस किया है और साथ ही उसके सीईओ पर भी आरोप लगाए हैं। आइए पूरी जानकारी बताते हैं आपको।

तो हम आपको बता दें कि एलन मस्क ने यह कहा है कि Open AI के सीईओ ने एआई के आसपास अपने मूल संविदात्मक समझौतों का उल्लंघन किया है, इसलिए एलन मस्क ने Open AI और उसके सीईओ (CEO) सैम अल्टमैन पर मुकदमा दायर किया है। अमेरिका में सैन फ्रांसिस्को की एक अदालत में दायर मुकदमा Open AI के नवीनतम नेचुरल लैंग्वेज मॉडल जीपीटी–4 (GPT –4) के इर्द–गुर्दे केंद्रित है। हम आपको बता दें कि Open AI और microsoft ने सैम ऑल्टमैन द्वार संचालित कंपनी में अरबों डॉलर का निवेश किया है। और एक्स के मालिक ने यह आरोप लगाया है कि Open AI और microsoft ने इस बात पर सहमती व्यक्त करने के बावजूद, कि आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस (Artificial general intelligence) क्षमताएं ‘गैर फायदेमंद और मानवता के लिए समर्पित रहेंगी, गलत तरीके से जीपीटी–4 (GPT–4) को लाइसेंस पेश किया है।’

यह भी पढ़ें  TMC सांसद मिमी चक्रवर्ती ने क्यों दिया अपने पद से इस्तीफा? आखिर क्या है वजह?

आइए अब हम आपको बताते हैं कि पूरा मामला क्या है।

सूत्रों के अनुसार, जो मुकदमा दायर हुआ है, उसमें यह कहा गया है कि, “ एलन मस्क ने लंबे समय से माना है कि एजीआई (AGI) मानवता के लिए एक गंभीर खतरा है, और शायद अस्तित्वी संबंधी सबसे बड़ा खतरा है आज के दौर में।” एलन मस्क के मुकदमे में यह दायर है कि, दूसरे पक्ष के सर्वोत्तम हित्त में अपेक्षित कर्तव्य का उल्लंघन और अनुचित कारोबारी व्यवहार जैसी शिकायतों का विवरण दिया गया है। हम आपको बता दें कि एलन मस्क ओपन एआई (Open AI) मूल बोर्ड के 2018 तक सदस्य थे।

मुकदमे के अनुसार, ओपन एआई (Open AI) का सबसे पहला शोध ‘ खुले डिजाइन, मॉडल और कोड तक मुफ्त और सार्वजनिक पहुंच प्रदान करने’ में किया गया था। जब ओपन एआई (Open AI) शोधकर्ताओं ने यह पाया कि, “ ट्रांसफॉर्मर्स ” नाम का एक एल्गोरिथम बिना किसी स्पष्ट प्रशिक्षण के कई नेचुरल लैंग्वेज कार्य कर सकता है, जिसका मूल रूप से गूगल द्वारा आविष्कार किया गया था, “ पूरा ग्रुप Open AI द्वारा जारी किए गए मॉडल को बढ़ाने और विस्तारित करने के लिए आगे आया।” आप भी अब यह जानना चाह रहे होंगे कि यह AI का इतिहास क्या है, तो आइए इसके बारे में आपको बताते हैं। सैम ऑल्टमैन Open AI के CEO 2019 में बने थे। उसके बाद Open AI ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ 22 सितंबर 2020 में एक समझौता किया, जिसमें विशेष रूप से माइक्रोसॉफ्ट को उसके जेनरेटिव प्रीट्रैंड ट्रांसफार्मर (GPT–3) लैंग्वेज मॉडल का लाइसेंस दिया गया था।

यह भी पढ़ें  इजराइल–हमास वॉर पर अमेरिका के राष्ट्रपति Joe–Biden ने दिया बड़ा बयान। अगले सप्ताह तक युद्धविराम होने की संभावना जताई।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top